Responsive Menu
Add more content here...

विदेशों से बच्चों की तस्करी कर उन्हें सऊदी में भीख माँगने पर मजबूर करने पर रोक लगाई जाए

सऊदी हुमन राइट्स कमिशन के सदस्य डॉ सारा ओबैद अल करीम ने बताया कि कई देशों से बच्चों को लाकर भीख मांगने जैसे घटिया काम को अंजाम दिया जा रहा है। इन बच्चों को भीख मांगने के लिए इनकी स्मगलिं’ग की जा रही है उनका कहना है कि इन सभी मासूम बच्चों को या तो उनके देश में वापस भेज दिया जाए या फिर इन बच्चों के लिए कुछ खास किया जाए जिससे उनका भविष्य संवर सके।

सऊदी अरब के अल अखबारया चैनल के जाने-माने प्रोग्राम “120” के साथ बात करते हुए उन्होंने कहा है कि बच्चों को लाकर उनसे भीख मांगने जैसे बुरे चीज को खत्म करने के लिए कई तरीके हैं जिन्हें अपनाया जा सकता है। उनके मुताबिक एक तरीका तो यह भी है कि बच्चे को उनके देश में वापस भिजवा दिया जाए इसके बाद दूसरा रास्ता यह है कि इन सभी बच्चों को अपने ही देश में रखा जाए और उनके लिए बेहतरीन शिक्षण का इंतेजाम कराया जाए।

डॉक्टर सारा अल उबैद ने कहा कि कुछ गतिविधियां मानव तस्करी के दायरे के अंदर आती हैं लेकिन मुझे बहुत अफसोस के साथ कहना पड़ रहा है कि लोग उन्हें उस नजर से देखते ही नहीं है। इस हवाले से यह मिसाल दी जा सकती है

कि एक व्यक्ति किसी से कर्जा लेने के बाद उसका भुगतान ना करने पर अपनी बेटी की उसके साथ शादी करा देता है यह प्रक्रिया अतीत में हमेशा से होती आई है अफसोस है कि यह आज भी समाज के कुछ तबकों में यह फैली हुई है।

Leave a Comment